Web Domain Authority the #1 domain authority and page authority booster.

Shayari Online

Home Shayari Online

Shayari Online

Rated: 2.83 / 5 | 1,510 listing views Shayari Online Web Domain Authority Directory

liechtenstein

 

General Audience

  • bhoomigyan
  • January 28, 2018 01:09:50 AM

A Little About Us

Shayari, Sad Shayari, Hindi Shayari, Best Shayari, shayri

Listing Details

Listing Statistics

Add ReviewMe Button

Review Shayari Online at Web Domain Authority Directory

Add SEO Score Button

My Web Domain Authority Score

Google Adsense™ Share Program

Alexa Web Ranking: N/A

Alexa Ranking - Shayari Online

Example Ad for Shayari Online

This what your Shayari Online Blog Ad will look like to visitors! Of course you will want to use keywords and ad targeting to get the most out of your ad campaign! So purchase an ad space today before there all gone!

https://www.bloggingfusion.com

.

notice: Total Ad Spaces Available: (2) ad spaces remaining of (2)

Advertise Here?

  • Blog specific ad placement
  • Customize the title link
  • Place a detailed description
  • It appears here within the content
  • Approved within 24 hours!
  • 100% Satisfaction
  • Or 3 months absolutely free;
  • No questions asked!

Subscribe to Shayari Online

Khusi Ka Hissa !

Uploaded By : SUMAN RATHIA Email: sumanrathia2002@gmail.com

Jaane Kin Kin Baato Me kissa Hu Mai,
Par Kisi Ki Khusi Ka Hissa Hu Mai…


Jai Ho ! Pratham Chatrapati…

Tribute to Chatrapati Shivaji Maharaj

सुनो कथा भारत माता के सपूत की,
शिवनेरी में जन्में जीजाबाई के लाल की..

मुगलों के आतंक का काल, मराठा साम्राज्य की,
तानाजी के बलिदान और फरजंद के सम्मान की..
सुनो कथा भारत माता के सपूत की !

१६ साल का तोर्ना किला विजेता, सपने जिसके स्वराज की,
दादोजी का शिष्य,शाहजी के दुलार की..
सुनो कथा भारत माता के सपूत की !

पीर बाबा के दुवाओं वाले शिवाई देवी के वरदान की,
जय हो! प्रथम छत्रपति श्रीमंत शिवाजी महाराज की..
Tribute to Chatrapati Shivaji Maharaj !


Understanding Time..

Understanding Time

Waqt Berukhi Se Chalta Hai,
Na Gam, Na Khusi Ki Parwah Karta Hai..


Aatank Ka Janaza..

We Support Afghanistan

Beshak Dohra Le Tu,
Darindagi Ka Nazara..
Sare Aam Uthega,
Aatank Ka Janaza..

🇦🇫 We Support Afghanistan 🇦🇫


Barbad-e-Tamanna Pe..

Barbad-e-Tamanna

बर्बाद-ए-तमन्ना पे अताब और ज्यादा
हाँ मेरी मोहब्बत का जवाब और ज्यादा

रोएँ न अभी अहल-ए-नज़र हाल पे मेरे
होना ही अभी मुझको खराब और ज़्यादा

आवारा और मजनूँ ही पे मौकूफ नहीं कुछ
मिलने हैं अभी मुझको खिताब और ज़्यादा

उठेंगे अभी और भी तूफ़ान मेरे दिल से
देखूंगा अभी इश्क़ के मैं ख्वाब और ज़्यादा

टपकेगा लहू और मेरे दीदा-ए-तर से
धडकेगा दिल-ए-खाना-खराब और ज़्यादा

होगी मेरी बातों से उन्हें और भी हैरत
आयेगा उन्हें मुझसे हिजाब और ज़्यादा


Dil Me Tum Paida Karo..

Dil Me Tum Paida Karo

अपने दिल को दोनों आलम से उठा सकता हूँ मैं
क्या समझती हो कि तुमको भी भुला सकता हूँ मैं

कौन तुमसे छीन सकता है मुझे क्या वहम है
खुद जुलेखा से भी तो दामन बचा सकता हूँ मैं

दिल मैं तुम पैदा करो पहले मेरी सी जुर्रतें
और फिर देखो कि तुमको क्या बना सकता हूँ मैं

दफ़न कर सकता हूँ सीने मैं तुम्हारे राज़ को
और तुम चाहो तो अफसाना बना सकता हूँ मैं

तुम समझती हो कि हैं परदे बोहत से दरमियाँ
मैं यह कहता हूँ कि हर पर्दा उठा सकता हूँ मैं

तुम कि बन सकती हो हर महफ़िल मैं फिरदौस-ए-नज़र
मुझ को यह दावा कि हर महफ़िल पे छा सकता हूँ मैं

आओ मिल कर इन्किलाब ताज़ा पैदा करें
दहर पर इस तरह छा जाएं कि सब देखा करें


Link to Category:

Or if you prefer use one of our linkware images? Click here

Social Bookmarks


Available Upgrade

If you are the owner of Shayari Online, or someone who enjoys this blog why not upgrade it to a Featured Listing or Permanent Listing?